INDvsSA: दक्षिण अफ्रीका को आज तक नहीं हरा पाई टीम इंडिया

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) और इंडिया (India) के बीच भारत में हुए चार मुकाबलों में से दो मैच बारिश की भेंट चढ़ गए, जबकि बाकी दोनों में दक्षिण अफ्रीका ने जीत हासिल की है.

मोहाली. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ मोहाली में 18 सितंबर को होने वाले सीरीज के दूसरे टी-20 मैच के लिए मैदान में कदम रखेगी. दोनों टीमों के बीच अब तक कुल 15 टी-20 मैच खेले गए हैं और इनमें से भारत का रिकॉर्ड बेहतर रहा है. टीम इंडिया (Team India) ने 8 मुकाबलों में जीत दर्ज की है, वहीं दक्षिण अफ्रीका ने पांच मुकाबले जीते हैं. दो मैच पूरे नहीं हो सके. हालांकि दिलचस्प बात ये है कि भारतीय टीम अपनी जमीन पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आज तक कोई भी टी-20 मैच नहीं जीत सकी है. भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच भारत में चार मुकाबले हुए हैं. इनमें से दो मैच बारिश के चलते नहीं खेले जा सके जबकि बाकी दोनों मैचों में दक्षिण अफ्रीका ने जीत दर्ज की है. रद्द रहे दोनों मैच कोलकाता और धर्मशाला में खेले जाने थे.

भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच टी-20 सीरीज में भले ही अभी तक एक भी गेंद नहीं फेंकी गई है, लेकिन भारतीय खेमे में हलचल का दौर जारी है. बात ऋषभ पंत (Rishabh Pant) पर बढ़ते प्रदर्शन के दबाव की हो या फिर युवा खिलाड़ियों को खुद को साबित करने के लिए मिले अल्टीमेटम की, टीम इंडिया (Team India) में बल्लेबाजी क्रम को लेकर उठापटक का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा. कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) और कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने संकेतों में ऋषभ पंत को बता दिया है कि उन्हें जिम्मेदारी भरा प्रदर्शन करना ही होगा. हालांकि युवा लेग स्पिनर राहुल चाहर और वाशिंगटन सुंदर के लिए भी चुनौती कम नहीं है, जिन्हें युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जगह टीम में चुना गया है.

धवन की सुखद यादें
भारतीय टीम की ओर से श्रेयस अय्यर और मनीष पांडे के लिए भी ये सीरीज काफी अहम होगी. उनसे टीम के मध्यक्रम को मजबूती देने की उम्मीद है. वेस्टइंडीज दौरे पर बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे ओपनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) भी लय हासिल करना चाहेंगे. धवन की इस मैदान से सुखद यादें जुड़ी हैं. उन्होंने इसी मैदान पर डेब्यू करते हुए टेस्ट क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 187 रन की पारी खेली थी. इसी साल मार्च में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही वनडे क्रिकेट में 143 रन बनाए थे, हालांकि इस मैच में टीम को हार का सामना करना पड़ा था.

मौसम का मिजाज
भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच भले ही धर्मशाला में पहला टी-20 मैच बारिश से धुल गया, लेकिन मोहाली (Mohali) में इसकी कोई उम्मीद नहीं है. यहां मौसम साफ है और दर्शकों को पूरा मैच देखने को मिलेगा. हालांकि रात में बारिश की आशंका 10 प्रतिशत व्यक्त की गई है, लेकिन इससे मैच पर किसी तरह का असर होने का अनुमान नहीं के बराबर है.

पिच रिपोर्ट
मोहाली (Mohali) की पिच पर गेंद और बल्ले के बीच अच्छा संघर्ष देखने को मिलता है, लेकिन अमूमन यह पिच बल्लेबाजों के लिए ऐशगाह मानी जाती है. ऐसे में दर्शकों को चौकों और छक्कों की बरसात देखने को मिल सकती है. ऐसे में जबकि दोनों टीमों में बड़े हिट लगाने वाले आक्रामक बल्लेबाज हैं तो दर्शकों को बड़ा स्कोर देखने को मिलने की पूरी उम्मीद है.

बल्लेबाजी प्रदर्शन : दोनों टीमों के बीच खेले गए टी-20 मुकाबलों में सर्वाधिक टीम स्कोर 2012 में बना था जब दक्षिण अफ्रीका ने 4 विकेट खोकर 219 रन बनाए थे. वहीं सबसे कम स्कोर भारत ने 2015 में बनाया जब टीम 92 रनों पर सिमट गई. जहां तक सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज की बात है तो रोहित शर्मा के नाम कुल 341 रन दर्ज हैं. व्यक्तिगत उच्चतम स्कोर भी रोहित का ही है. उन्होंने 2015 में 106 रन बनाए थे. दोनों टीमों के बीच हुए मुकाबलों में दो शतक लगे हैं. रोहित के अलावा सुरेश रैना के बल्ले से भी सैकड़ा निकला है. दोनों टीमों के बीच 19 अर्धशतक लगे हैं, इनमें से सबसे अधिक तीन अर्धशतक जेपी डुमिनी के बल्ले से निकले. जहां तक दोनों टीमों के सिक्सर किंग की बात है तो जेपी डुमिनी ने सबसे अधिक 16 छक्के लगाए हैं.

वहीं, दक्षिण अफ्रीका के सामने टीम इंडिया की कड़ी चुनौती होगी. दक्षिण अफ्रीकी टीम मौजूदा समय में बदलाव के दौर से गुजर रही है. टीम के लिए तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा की भूमिका अहम होगी, जो भारतीय कप्तान विराट कोहली समेत टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाजों की परीक्षा ले सकते हैं. हालांकि कोहली के लिए मोहाली के मैदान से सुखद यादें जुड़ी हैं जब उनहोंने मार्च 2016 में हुए टी-20 वर्ल्ड कप के मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 51 गेंदों पर 82 रन की मैच विजयी पारी खेली थी.

गेंदबाजी प्रदर्शन : दोनों टीमों के बीच टी-20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा दस विकेट भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने लिए हैं. उन्होंने दस विकेट अपने नाम किए हैं. वहीं सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भुवनेश्वर कुमार का रहा है, जिन्होंने 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 24 रन देकर पांच विकेट हासिल किए थे.

विकेटकीपिंग प्रदर्शन : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टी-20 मुकाबलों में विकेटकीपर के तौर पर सबसे ज्यादा पांच शिकार महेंद्र सिंह धोनी ने किए हैं. वहीं, किसी एक मैच में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का रिकॉर्ड दिनेश कार्तिक और हेनरिक क्लासेन के नाम है. कार्तिक ने 2007 और हेनरिक ने 2018 में ये प्रदर्शन किया.

फील्डिंग प्रदर्शन : दोनों टीमों के बीच रोहित शर्मा और सुरेश रैना ने सर्वाधिक 9-9 कैच लिए हैं. वहीं किसी एक मैच में सर्वाधिक कैच लेने का रिकॉर्ड तीन खिलाड़ियों के नाम है. इनमें 2009 में एबी डिविलियर्स, 2019 में रोहित शर्मा और 2012 व 2018 में सुरेश रैना के नाम शामिल हैं.

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment