जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस पर लगाई रोक

कश्मीर में अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों के हटने के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ रहा है। तिलमिलाए पाकिस्तान ने गुरुवार को समझौता एक्सप्रेस की सेवाएं रद्द कर दी हैँ। यह जानकारी न्यूज एजेंसी एएनआई ने पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से दी।

इससे पहले जम्मू-कश्मीर से धारा 370 के हटाने और दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के फैसले से तिलमिलए पाकिस्तान ने भारत के साथ राजनयिक और व्यापारिक संबंधों को तोडऩे का फैसला लिया था। पाकिस्तान सरकार ने भारत के राजदूत को निकालने का फैसला लिया था। पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुक्त को वापस जाने को कहा। साथ ही उसने भारत के साथ व्यापारिक संबंधों को भी निलंबित कर दिया है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने टीवी पर एक टिप्पणी की, हम अपने राजदूत को दिल्ली से वापस बुलाएंगे और भारतीय राजदूत को वापस भेज रहे हैं। वहीं एक सरकारी बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान भारत के साथ राजनयिक संबंधों में बढ़ती कड़वाहट के बीच अपने कट्टर प्रतिद्वंद्वी के साथ द्विपक्षीय व्यापार पर रोक लगाएगा।

गौरतलब है कि भारत सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले प्रावधानों को हटाते हुए सीमावर्ती राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेश में विभाजित कर दिया था। सरकार के इस कदम को संसद की मंजूरी भी मिल चुकी है।

अटारी अंतरराष्ट्रीय रेलवे स्टेशन के सुपरिटेंडेंट अरविंद कुमार गुप्ता के मुताबिक आज पाकिस्तान से समझौता एक्सप्रेस को भारत आना था लेकिन इस दौरान पाकिस्तान से संदेश आया कि भारतीय रेल अपने ड्राइवर और क्रू मेंबर को भेज कर समझौता एक्सप्रेस को बॉर्डर से ले जाए. उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी रेलवे ने सुरक्षा कारणों से यह फैसला लिया है. अरविंद कुमार ने बताया कि अब भारतीय रेल ड्राइवर और गार्ड को जिनके पास वीजा है, उन्हें समझौता एक्सप्रेस को लेने भेजा जाएगा

पाकिस्तान के अंग्रेजी अखबार डॉन की वेबसाइट के अनुसार राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (NSC) ने बुधवार को पाकिस्तान के राजनयिक संबंधों को कम करने और भारत के साथ सभी द्विपक्षीय व्यापार को निलंबित करने का ‘संकल्प’ लेते हुए, कश्मीर पर कब्जे के संबंध में हालिया घटनाक्रमों के मद्देनजर कई बड़े फैसले लिए.

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment