पाकिस्तान: पूर्व प्रधाममंत्री मनमोहन सिंह पहले जत्थे के साथ जाएंगे करतारपुर

अगले महीने करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के मौके पर सर्वदलीय समूह के साथ जाने के लिए पंजाब सरकार के न्यौते को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मान लिया है। गुरुवार को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से जारी रिलीज में यह जानकारी दी गई।

नई दिल्ली और इस्लामाबाद की तरफ से सिखों के भारत स्थित धार्मिक स्थल डेरा बाबा नानक साहिब और पाकिस्तान के गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर कॉरिडोर को जोड़ने के लिए काम किया जा रहा है। सिखों के लिए यह दोनों ही शहर धार्मिक लिहाज से महत्वपूर्ण है और धर्म के संस्थापक गुरुनानक से काफी करीब से जुड़ा हुआ है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने 30 सितंबर को इस बात की घोषणा की थी कि उनके देश ने यह फैसला किया है कि करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के लिए उनका देश पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को न्यौता देगा।

गौरतलब है कि करतारपुर कॉरिडोर सिखों के लिए पवित्र जगहों में से एक है। ऐसा इसलिए क्योंकि सिखों के धर्मगुरु गुरुनानक ने अपनी जिंदगी के 17 साल 7 महीने 9 दिन यहां गुजारे थे। परिवार के साथ वे यहीं बस गए थे और उनके माता पिता का देहांत भी यहीं हुआ था।

भारतीय सीमा की तरफ से श्रद्धालु सीमा पर खड़े होकर ही दूरबीन से ही इसका दर्शन करते हैं। बीते साल करतारपुर कॉरिडोर तब चर्चा में आ गया था जब सिखों के लिए इसका रास्ता तैयार करवाया गया था। पाकिस्तान के अनुसार यहां पर भारत से 5000 सिख यात्री के आगमन के लिए केंद्र स्थापित किए गए हैं।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment