टोक्यो: सप्ताह में तीन दिनों की छुट्टी, प्रोडक्टिविटी में हुआ बड़ा इजाफा

माइक्रोसॉफ्ट ने जापान में अपने कर्मचारियों को प्रायोगिक तौर पर इस साल अगस्त के महीने में सप्ताह में तीन छुट्टियां दी और चार दिन काम पर बुलाया. कंपनी के इस प्रयोग का जबरदस्त असर हुआ और कर्मचारियों के काम करने की शक्ति में 40 फीसदी की वृद्धि हुई.

टोक्यो: माइक्रोसॉफ्ट ने जापान में अपने कर्मचारियों पर एक अनूठा प्रयोग किया है. यहां कंपनी ने अपने कर्मचारियों को सप्ताह में सिर्फ चार दिन काम पर बुलाया और तीन दिनों की छुट्टी दी. कंपनी के इस प्रयोग के अविश्वसनीय नतीजे निकले और कर्मचारियों की प्रोडक्टिविटी में 40 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई. माइक्रोसॉफ्ट ने जापान में यह प्रयोग वर्क लाइफ च्वॉइस चैलेंज के तहत इस साल अगस्त के महीने में किया था. इस दौरान मीटिंग की अधिकतम अवधि घटाकर 30 मिनट कर दी गई थी और ऑनलाइन संवाद को बढ़ावा दिया गया था.

बड़ा बचत भी हुआ

कंपनी के इस प्रयोग के अन्य फायदे भी सामने आए. इस दौरान बिजली खपत में 23 फीसदी की कमी आई और पेपर प्रिटिंग में 59 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. ये आंकड़े पिछले और इस साल के अगस्त महीने के बीच तुलना कर निकाले गए हैं. कंपनी के इस प्रयोग के खत्म होने के बाद जब कर्मचारियों से बात की गई तो 92 फीसदी ने इसे लेकर उत्साह व्यक्त किया. इस सफल प्रयोग के बाद माइक्रोसॉफ्ट सर्दी के दिनों में फिर से इसी तरह का एक प्रयोग स्टार्ट कर सकती है लेकिन इसमें तीन दिन का स्पेशल लीव मिलने की संभावना नहीं है.

जापान में काफी काम करते हैं कर्मचारी

बता दें कि जापान में कर्मचारी काफी अधिक देर तक काम करते हैं. साल 2017 के एक सर्वे के मुताबिक जापान की एक चौथाई कंपनी में ऐसे कर्मचारी हैं जिन्हें महीने में 80 घंटे से अधिक का ओवरटाइम बिना किसी अतिरिक्त पैसे के करना पड़ता है.

वहीं, आपको बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट जहां सप्ताह में चार दिन काम का प्रयोग कर रही है चीन की कंपनी अलीबाबा के को-फाउंडर जैक मा कर्मचारियों को दिन में 12 घंटे काम करने की सलाह दे चुके हैं. इस साल अप्रैल के महीने में उन्होंने ‘996’ का एक पैटर्न दिया था जिसका मतलब था सप्ताह में 6 दिन सुबह 9 बजे से रात के 9 बजे तक काम.

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment