रविशंकर प्रसाद का राहुल पर हमला,कहा- देश ने गंभीरता से लेना बंद कर दिया

प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने महाविकास अघाड़ी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि ये महावसूली सरकार है. उन्होंने हमला जारी रखते हुए कहा कि, सिर्फ मुंबई से 100 करोड़ की वसूली की मांग थी तो फिर पूरे महाराष्ट्र से कितना मिलता है.

नई दिल्ली: कांग्रेस पर बोले रविशंकर प्रसाद राफेल पर तो कांग्रेस तो सुप्रीम कोर्ट में हार गई थी. राहुल गांधी ठीक से होम वर्क नहीं करते हैं. अगस्ता वेस्टलैंड में सुशेन गुप्ता हमारी सरकार में ही गिरफ्तार हुए थे 2019 में कांग्रेस से सवाल पूछना चाहता हूं की 30 साल से भारतीय एयर फोर्स को बेहतर फाइटर जेट क्यों नहीं मिला? अगर भारत के पास राफेल होता तो बालाकोट नहीं जाना पड़ता , हम यही से टारगेट कर सकते थे और वो हमसे सबूत मांगते हैं. आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने महाराष्ट्र में  महा विकास अघाड़ी सरकार के गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफा देने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कही.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने महाविकास अघाड़ी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि ये महावसूली सरकार है. उन्होंने हमला जारी रखते हुए कहा कि, सिर्फ मुंबई से 100 करोड़ की वसूली की मांग थी तो फिर पूरे महाराष्ट्र से कितना मिलता है. अनिल देशमुख शरद पवार से मिलने के बाद सीएम उद्धव ठाकरे को इस्तीफा सौंपा. आखिर हमारे सीएम उद्धन ठाकरे कब बोलेंगे. उद्धव ठाकरे चुप क्यों हैं. एनआईए सचिन वाझे की परत-दर-परत निकाल रही है. एनआईए वाझे की रोज नई गाड़ियां निकाल रही है. एनआईए रोज नए-नए खुलासे कर रही है. 100 करोड़ वसूला कांड मों कोर्ट ने माना है कि मामला गंभीर है और अनिल देशमुख मामले में शामिल हैं.

रविशंकर प्रसाद ने आगे कहा कि क्या हम मानकर चलें कि बात निकलेगी तो दूर तक जाएगी. सचिन वाझे की एनआईए की परत दर परत निकाल रही है. सचिन वाझे की कहानी परत दर परत निकल रही है. इस मामले की सभी परते खोली जाएं. देशमुख किसके लिए उगाही कर रहे थे, पार्टी के लिए या अपने लिए.

रविशंकर प्रसाद केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुंबई हाईकोर्ट का फैसला जो हुआ है हम शुरू से निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे थे. आज इसकज रिकॉल करना ज़रूरी है 1750 बार है कि 100 करोड़ कलेक्शन करके दीजिए. हमने पूछा था कि ये सिर्फ मुम्बई का आंकड़ा है पूरे महाराष्ट्र का क्या है. उध्दव ठाकरे खामोश हैं . हमारे उद्धव ठाकरे कब बोलेंगे.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हम चाहते हैं कि इस मामले की पूरी सही से जांच हो. ये महाअघाड़ी नहीं वसूली अघाड़ी है. उन्होंने आगे कहा कि अनिल देशमुख ने अपने इस्तीफा में लिखा है कि मैं नैतिक आधार पर इस्तीफा दे रहा हूं. क्या उद्धव जी आपकी कोई नैतिकता है कि नहीं. उन्होंने कहा कि अगर अनिल देशमुख नैतिक आधार पर इस्तीफा दे रहे हैं तो उद्धव ठाकरे आपकी नैतिकता कहां है.

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment