अमेरिका झेल रहा भयंकर महंगाई की मार, 40 सालों के सबसे ऊंचे स्तर पर मुद्रास्फीति

अमेरिकी श्रम विभाग ने शुक्रवार को मई, 2022 के आंकड़े जारी करते हुए कहा कि पिछले महीने उपभोक्ता कीमतें एक साल पहले की तुलना में 8.6 प्रतिशत बढ़ गईं।

  • अमेरिका में मुद्रास्फीति 8.6 प्रतिशत पर पहुंची
  • गैस, खानपान और दूसरी चीजें की कीमतों में वृद्धि
  • कई महीनों से लगातार बढ़ी हुई है मुद्रास्फीति

अमेरिका में मुद्रास्फीति मई महीने में चार दशकों के सबसे ऊंचे स्तर 8.6 प्रतिशत पर पहुंच गयी। इसका कारण गैस, खानपान और अन्य जरूरी वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि है। अमेरिकी श्रम विभाग ने शुक्रवार को मई, 2022 के आंकड़े जारी करते हुए कहा कि पिछले महीने उपभोक्ता कीमतें एक साल पहले की तुलना में 8.6 प्रतिशत बढ़ गईं।

एक महीने पहले अप्रैल में उपभोक्ता कीमतें (consumer prices) एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में 8.3 प्रतिशत बढ़ी थीं। महीने-दर-महीने के आधार पर उपभोक्ता वस्तुओं की कीमतें अप्रैल की तुलना में मई में एक प्रतिशत बढ़ गईं। यह वृद्धि मार्च की तुलना में अप्रैल में हुई 0.3 प्रतिशत की वृद्धि की तुलना में काफी ज्यादा है।

1982 के बाद पहली बार 8.5 प्रतिशत पर मुद्रास्फीति

अमेरिका पिछले कुछ महीनों से लगातार बढ़ी हुई मुद्रास्फीति की स्थिति से जूझ रहा है। खानपान और अन्य जरूरी वस्तुओं की कीमतें बढ़ने से एक अमेरिकी परिवार के लिए जीवन-निर्वाह काफी मुश्किल हो गया है। इसकी सबसे ज्यादा मार अश्वेत समुदाय और निम्न-आय वर्ग के लोगों को झेलनी पड़ रही है। मार्च 2022 में उपभोक्ता मूल्य आधारित मुद्रास्फीति 1982 के बाद पहली बार 8.5 प्रतिशत पर पहुंची थी।

फेडरल रिजर्व की ब्याज दरें भी बढ़ीं

इस बढ़ी हुई मुद्रास्फीति ने अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व को भी ब्याज दर में बढ़ोतरी के लिए मजबूर किया है। हालांकि कुछ विश्लेषकों ने ऐसी संभावना जताई है कि आने वाले कुछ महीनों में अमेरिका में मुद्रास्फीति की तेजी पर लगाम लगेगी। लेकिन इसके बावजूद मुद्रास्फीति के साल के अंत में सात प्रतिशत से नीचे आने की संभावना कम ही है।

संद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment