क्या सोया बीन की बड़ी मैं 46 prakaar k पोषक तत्व पाए जाते है ?

सोया में कई पोषक तत्व होते हैं। यह प्रोटीन का उच्च स्रोत तो होता ही है साथ ही फाइबर और कैल्शियम भी इसमें पर्याप्त‍ मात्रा में पाये जाते हैं। सोया खाने में भी स्वा्दिष्ट होता है और विशेषकर बच्चोंं को यह काफी पसंद आता है। उबले हुए सोयाबीन और टोफू कैल्शियम के अच्छेे स्त्रोत हैं।

सोयाबीन में काफी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। यह अंडे, दूध और मांस में पाए जाने वाले प्रोटीन से भी ज्यादा होता है। इसके अलावा इसमें विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, विटामिन ई, मिनरल्स और एमीनो एसिड पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। शरीर की विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति करने के अलावा यह कई तरह के रोगों के उपचार में काफी कारगर होता है। शारीरिक विकास, त्वचा संबंधी समस्याएं और बालों की समस्या के भी उपचार सोयाबीन से संभव हैं। इन सबके अतिरिक्त सोयाबीन के अनेक फायदे हैं जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

1. कोशिकाओं की मरम्मत में – सोयाबीन प्रोटीन का बेहरीन स्रोत है। ऐसे में इसका सेवन करना मेटाबॉलिक सिस्टम को दुरूस्त रखता है। इसके अलावा यह कोशिकाओं के विकास तथा क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत में भी मदद करता है।

2. वजन घटाने और बढ़ाने में – सोयाबीन वजन घटाने और और बढ़ाने दोनों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह भूख को कम करने के लिए भी जाना जाता है जिसकी वजह से मोटापे का खतरा कम होता है। इसके अलावा इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन और फाइबर भी पाया जाता है जो वजन बढ़ाने में भी मदद करता है लेकिन इसके लिए ज्यादा मात्रा में सोयाबीन के सेवन की जरूरत पड़ती है।

3. कैंसर से बचाव में – सोयाबीन में पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट्स कई तरह के कैंसर रोकने में मददगार होते हैं। यह शरीर में कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं को पनपने से रोकती है। सोयाबीन में मौजूद फाइबर कंटेंट कोलोन कैंसर के खतरे को कम करने में मददगार होता है।

4. हड्डियों को मजबूत बनाने में – सोयाबीन में काफी अधिक मात्रा में विटामिन और मिनरल्स पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, कॉपर, सेलेनियम और जिंक की भी काफी मात्रा पाई जाती है। ये सभी पोषक तत्व शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं। सोयाबीन का सेवन ऑस्टियोपोरोसिस जैसी समस्या के लिए सबसे बेहतर समाधानों में से एक है।

5. मानसिक रोगों में – किसी भी तरह के मानसिक रोग में सोयाबीन का सेवन काफी फायदेमंद होता है। यह मानसिक संतुलन को बेहतर बनाकर दिमाग को तेज करने का काम करता है। इसके अलावा दिल के रोगों में भी सोयाबीन का सेवन काफी फायदेमंद है।

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment