पंजाब में जहरीली शराब पीने से मरने वालों को आंकड़ा 47 पहुंचा

चंडीगढ़: पंजाब में जहरीली शराब पीने से 47 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई लोगों का इलाज अभी भी जारी है। पंजाब के तीन जिलों अमतृसर, तरणतारण और बटाला में जहरीली शराब का कहर पीने वालों पर टूटा है। तीनों जिलों में शराब पीने के बाद लोगों की तबीयत बिगड़ने लगी और कुछ ही घंटों के अंदर लोगों ने दम तोड़ दिया। सरकार ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिलाया है, जबकी विपक्ष इस मामले को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश में जुटा हुआ है।

मामले में एक्शन लेते हुए पुलिस ने 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। सरकार ने लापरवाही करने पर एक SHO को सस्पेंड कर दिया गया है। इस मामले में पुलिस की एसआईटी बनाई गई है, जो सारे मामले की जांच करेगी। वहीं इस मामले में सियासत भी शुरू हो गई है। विपक्षी दलों ने मामले की जांच किसी हायर ऑथॉरिटी से कराने की मांग की है। हालांकि सरकार इस मामले में लापरवाही करने वालों पर सख्त एक्शन लेने का दावा किया है।

लगातार हो रही मौत के बाद सूबे के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह हरकत में आए और ट्टीट के जरीए मजिस्ट्रेट जांच की जानकारी दी। उन्‍होंने लिखा, ‘मैंने अमृतसर, गुरदासपुर और तरणतारण में जहरीली शराब की मौतों की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। कमिश्नर, जालंधर डिवीजन जांच करेंगे और संबंधित एसएसपी और अन्य अधिकारियों के साथ समन्वय करेंगे, जो भी दोषी पाया जाएगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।’

मुख्यमत्री के सख्त होने के बाद पुलिस महकमा हरकत में आया। शुक्रवार को अमृतसर, बटाला और तरनतारन में 40 जगहों पर ताबड़तोड़ छापेमारी हुई, जिसमें शराब की तस्करी करने वाले 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। अमृतसर के तारसिक्का के मुच्छल गांव से एक महिला को भी पकड़ा गया। वहीं अकाली दल लगातार पंजाब सरकार को घेर रही है। अकाली दल पंजाब सरकार पर आरोप लगा रही है कि पंजाब सरकार आरोपियों के साथ मिली हुई है। अकाली दल के नेता विरसा सिंह ने बकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सरकार पर गंभीर आरोप लगाए।

उधर आम आदमी पार्टी ने भी मुख्यमंत्री पर आरोप लगाए हैं। उनका कहना है एक्साइज डिपार्टमेट और पुलिस विभाग दोनों मुख्यमंत्री के पास है, उनको ये दोनों विभाग फौरन छोड़ देना चाहिए। अब सवाल ये उठता है कि सरकार और पुलिस महकमे की निंद तभी क्यों खुलती है जब कोई बड़ी घटना होती है। आखिर कबतक देश में मौत का कारोबार यूं ही चलता रहेगा, सिर्फ गिरफ्तारी और निलंबन से मौतों का सिलसिला रुकने वाला नहीं।

 

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment