25 जून 2021: आज से आषाढ़ कृष्ण पक्ष आरंभ जानें,डेट और शुभ मुहूर्त

25 जून 2021 से आषाढ़ मास का आरंभ होने जा रहा है.

हिंदू कैलेंडर  में आषाढ़ मास को चौथा मास  माना गया है.

आषाढ़ मास  में देवशयनी एकादशी से चतुर्मास  का आरंभ होता है.

ज्येष्ठ मास का समापन 24 जून, गुरुवार को हो रहा है. पंचांग के अनुसार आषाढ़ मास 25 जून, शुक्रवार को कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि से आरंभ हो रहा है. हिंदू कैलेंडर के अनुसार आषाढ़ मास को बहुत ही महत्वपूर्ण मास माना गया है.

 

आषाढ़ मास में व्रत और पर्वों का विशेष महत्व बताया गया है. इस मास में पड़ने वाली एकादशी तिथियों को महत्वपूर्ण माना गया है. आषाढ़ मास में दो एकादशी की तिथि पड़ती है. एक एकादशी की तिथि कृष्ण पक्ष और दूसरी एकादशी की तिथि शुक्ल पक्ष में आती है.

 

योगिनी एकादशी 2021 (Yogini Ekadashi 2021)
आषाढ़ मास की कृष्ण पक्ष की एकादशी की तिथि को योगिनी एकादशी के नाम से जाना जाता है. पंचांग के अनुसार 5 जुलाई 2021, सोमवार को एकादशी तिथि है.

  • योगिनी एकादशी शुभ मुहूर्त (Yogini Ekadashi 2021 Shubh Muhurat)
  • 5 जुलाई, सोमवार
  • एकादशी तिथि का प्रारम्भ: 04 जुलाई 2021 को प्रात: 07 बजकर 55 मिनट से.
  • एकादशी तिथि का समापन: 05 जुलाई 2021 को रात्रि 10 बजकर 30 मिनट पर.

देवशयनी एकादशी 2021 (Devshayani Ekadashi 2021)
आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष में पड़ने वाली एकादशी तिथि को देवशयनी एकादशी कहा जाता है. पंचांग के अनुसार 20 जुलाई,मंगलवार को आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि है. इस एकादशी को इन नामों से भी जाना जाता है-

  • आषाढ़ी एकादशी
  • देवशयनी एकादशी 
  • हरिशयनी एकादशी 
  • पद्मनाभा एकादशी

देवशयनी एकादशी 2021, शुभ मुहूर्त (Devshayani Ekadashi 2021 Date)

  • एकादशी तिथि आरंभ: 19 जुलाई , 2021 को रात्रि 09 बजकर 59 मिनट.
  • एकादशी तिथि समाप्त: 20 जुलाई, 2021 को रात्रि 07 बजकर 17 मिनट.

चतुर्मास 2021 कब से आरंभ हो रहा है? (Chaturmas 2021)
देवशयनी एकादशी पर भगवान विष्णु का शयन काल आरंभ हो जाता है. इस तिथि से भगवान विष्णु पताल लोक में विश्राम करने चले जाते हैं और पृथ्वी की बागड़ोर भगवान शिव को सौंप जाते हैं. देवशयनी एकादशी से ही चतुर्मास का आरंभ होता है. चतुर्मास के आरंभ होने के बाद शुभ और मांगलिक कार्यों पर रोक लग जाती है. चतुर्मास में शादी, मुंडन गृह प्रवेश और सोलह संस्कारों को वर्जित माना गया है. चतुर्मास का समापन देवोत्थान एकादशी पर होता है.

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment