कोटा: क्रेशर बस्ती के हजारों मकान तोड़ने को लगाए लाल निशान सदमे में हजारों परिवार

क्रेशर बस्ती के हजारों मकान तोड़ने को लगाए लाल निशान सदमे में हजारों परिवार

कोटा दिनांक 8 सितंबर 2021 को अनतपुरा क्रेशर बस्ती में सालो से रह रहे हजारों परिवार मकान के आगे लाल निशान लगा प्रशासन द्वारा तोड़ने की सूचना पर सदमे में है हजारों क्षेत्र वासियों ने शहर के सभी जनप्रतिनिधियों अधिकारियों से धरने प्रदर्शन कर गुहार लगा ली कही सुनवाई नहीं होने के बाद समाजसेवी हिम्मत सिंह हाड़ा को बस्ती में आमंत्रित किया ।।

हिम्मत सिंह हाड़ा मौके पहुंचे तो काफी दूर गाड़ी खड़ी कर अंदर जाना पड़ा पूरी सड़के टूटी हुई बड़े बड़े गड़े उनमें भरा कीचड़ पानी मच्छरों जानवरो के बीच दयनीय हालत में जीने को मजबूर हजारों परिवार की हालत देख बेहद दुःख हुआ ।

बस्ती में लाइट काट दी पीने का पानी नहीं है दूर से लाना पड़ रहा है ,गड्डो में भरे पानी से नहाने पर मजबूर होना पड़ रहा है जबकि क्षेत्र वार्ड 33 नगर निगम क्षेत्र में आता है और यूआईटी इन्हे किसी योजना के नाम पर हटाने के लिए लाल निशान लगा चुकी है जिससे सभी मजदूर गरीब परिवार दिन रात दहशत में खाना पीना छोड़ महिलाए पुरुष बच्चे बूढ़े टेंट लगा यहां धरना दे अपनी पीड़ा बता रहे थै की वह यहां तकरीबन 30 सालो से सब रह रहे मौजूद परिवारों ने बताया की प्लाट उन्होंने खरीदे है उनके पास राशन कार्ड, आधार कार्ड , परिचय पत्र, सर्वे रसीदे , बिजली कनेक्शन सब है फिर भी कोई सुनवाई नहीं है ।

हिम्मत सिंह हाड़ा ने सभी जनप्रतिनिधियों सरकार यूआईटी प्रशासन से अपील करी है की सर्व प्रथम बस्ती वालो को साथ में लेकर बात करनी चाहिए न की एका एक लाला निशान लगा तोड़ने का ऑर्डर जिससे सभी परिवार दहशत में आ गए हैं यहां सभी गरीब मजदूर परिवार है आख़िर इनकी सुनवाई करेगा कोन अति शीघ्र कोई समाधान निकाले ताकि परिवार अपनी रोजमर्रा की जिंदगी जिए काम धंधे पर जाए न की काम धंधे मजदूरी छोड़ आंदोलन करे ।

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment