मुंबई पहुंचा मानसून, 9 से 12 जून के बीच पुणे और कोंकण में भी भारी बारिश के आसार

मौसम विभाग ने 9 से 12 जून के बीच मुंबई, पुणे और कोंकण के कई इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. रायगढ़ में 102 गांवों को खाली कराया गया है.

मुंबई में बुधवार सुबह मानसून (Mumbai Rains) ने अपनी पहली दस्तक दे दी है और कई इलाकों में पहली बारिश हो रही है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक दक्षिण पश्चिम मानसून (Southwest Monsoon Sets in Over Maharashtra) मुंबई पहुंच गया है और आज इसकी पहली बारिश हो रही है. मुंबई मौसम विज्ञान केंद्र की निदेशक शुभांगी भूटे ने  बताया कि मंगलवार सुबह मुंबई शहर में बारिश हुई थी हालांकि ये प्री-मानसून की बारिश थी. इसके अलावा मौसम विभाग में 9 से 12 जून के बीच मुंबई, पुणे और कोंकण के कई इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

आईएमडी ने महाराष्ट्र में  दक्षिण-पश्चिम मानसून पहुंचने की पुष्टि कर दी थी, जब मानसून तटीय रत्नागिरी जिले में हरनाई बंदरगाह में पहुंचा था. बरसात के दौरान लगभग हर साल मुंबई के लो लाइन इलाकों में पानी भर जाता है. मुंबई में मंगलवार तड़के कुछ इलाकों में बारिश हुई भी है, हालांकि सड़कों पर पानी जमा नहीं हुआ. इसके बावजूद आज निचले इलाकों में पानी भरने वाले स्थानों पर BMC के कर्मचारियों की तैनाती की गई है. आईएमडी के मुताबिक तेज हवाओं के साथ मुंबई, रायगढ़, ठाणे, पालघर, पुणे, नासिक और मध्य महाराष्ट्र में मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों में आने वाले दिनों में. मौसम विभाग ने चेतावनी जारी कर जर्जर इमारतों को खाली कराने का आदेश दिया है.

रायगढ़ के 103 गांवों को खाली कराने के आदेश

मुंबई और एमएमआर इलाके में 9 जून से 12 जून तक भारी बारिश की चेतावनी के बाद रायगढ़ के गांवों पर खतरा मंडरा रहा है. फ़िलहाल रायगढ़ के 103 गांवों को खाली कराने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. रायगढ़ में समुद्री किनारों और पहाड़ों के आसपास बसे गावों के लोगो को दूसरी सुरक्षित जगह शिफ्ट करने का आदेश प्रशासन ने दिया है. रायगढ़ में 11 और 12 जून को मूसलधार बारिश की आशंका है. मौसम विभाग के मुताबिक, ठाणे, रायगढ़, पालघर, अहमदनगर, पुणे, बीड, जालना, परभणी, हिंगोली, नांदेड़, औरंगाबाद और लातूर में गरज के साथ साथ बिजली, तेज हवाएं और मध्यम से तीव्र बारिश होने की संभावना है.

CM उद्धव ने सभी को सतर्क रहने के लिए कहा

बारिश की संभावना को दखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने संबंधित जिलों के संरक्षक मंत्रियों को जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरणों के साथ बैठक करने को कहा है. उन्होंने कहा,”मुंबई महानगर क्षेत्र और कोंकण क्षेत्र में नौ जून से 12 जून के बीच भारी बारिश का पूर्वानुमान है। किसी अनहोनी का सामना करने के लिए खुद को तैयार रखें.’ उन्होंने राज्य प्रशासन को निर्देश दिया कि निचले स्थानों, क्षतिग्रस्त भवनों और भूस्खलन वाली जगहों में रहने वालों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जाए.

BMC ने भी तैयारी शुरू की

मुंबई में भारी बारिश के अलर्ट को देखते हुए BMC ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है. बुधवार सुबह से भी शहर के कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है. BMC कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने बताया कि पानी को जमा होने से रोकने के लिए हिंदमाता इलाके में दो बड़े टैंक बनाए गए हैं, जिसमें मुंबई के निचले इलाकों में जमा पानी को डाइवर्ट किया जाएगा. मुंबई के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र (RMC) ने ट्वीट किया, “महाराष्ट्र के कई इलाकों में अगले पांच दिन में मौसम बिगड़ने की चेतावनी दी गई है. कोंकण और मध्य महाराष्ट्र के घाट क्षेत्रों में 10 जून से अधिक बारिश होने की आशंका है.’

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment