मुम्बई: भारत के पहले किन्नर एडवोकेट पवन यादव जी को यूएन द्वारा उनके सामाजिक कार्य के लिए डॉक्टरेट की उपाधि दी गई है..

देश के लिए गौरव का पल

मुम्बई: भारत के पहले एडवोकेट पवन यादव जी को यूएन द्वारा उनके सामाजिक कार्य के लिए डॉक्टरेट की उपाधि दी गई है

इस खास मौके पर महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण व महाराष्ट्र के कॉंग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने पवन यादव की इस उपलब्धि को बहुत सरहा और अंगवस्त्र पहनाकर स्वागत किया।

एडवोकेट पवन भारत की पहली किन्नर है जिन्हे डॉक्टरेट की उपाधि दी गई है

सारथी फाउंडेशन की अध्यक्षा एडवोकेट पवन ने महाराष्ट्र राज्य में अलग से किन्नर समाज के लिए शमशान बनवाना, टॉयलेट बनवाना, पेंशन, हॉस्पिटल में अलग से किन्नर के लिए वार्ड बनवाना, राशन वितरण करना, वोटर आईडी बनवाना, भूखों को खाना बाटना, गरीब और बेसहाय महिलाएं का सहारा बनना ऐसी कई कार्य पवन जी द्वारा सारथी फाउंडेशन के माध्यम से किया है

यह देश के लिए गौरव का पल है जहा देश में पहली बार एक किन्नर को डॉक्ट्रेट की डिग्री से नवाजा गया है। पवन लाखो के लिए एक प्रेरणा बन चुके है और उनके सामाजिक कार्य की चर्चा देश ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी हो रही है।

 

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

 

Related posts

Leave a Comment