दिवाली: के दिन बस करें ये एक काम, प्रसन्न होंगी मां लक्ष्मी व पितृदेव, यहां पढ़ें यमदीप की कथा

Diwali 2022: हिंदू धर्म में दिवाली उत्साह के साथ मनाया जाने वाला त्योहार है। हिंदू पंचांग के अनुसार, कार्तिक अमावस्या तिथि पर दिवाली का त्योहार मनाया जाता है। जानें इस दिन क्या करना चाहिए-

हिंदू धर्म में दिवाली या दीपावली प्रमुख त्योहारों में से एक है। हिंदू पंचांग के अनुसार, कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को दिवाली मनाते है। इस साल कार्तिक मास की अमावस्या तिथि 24 अक्टूबर को है। ऐसे में दिवाली या दीपावली का त्योहार 24 अक्टूबर को मनाया जाएगा। मान्यता है कि इस दिन लक्ष्मी-गणेश पूजन से घर में सुख-शांति  समृद्धि आती है। जानें दिवाली के दिन क्या करना चाहिए और पढ़ें यमदीप की कथा-

दिवाली पर ऐसा जरूर करें

सबसे पहले घर में दीपक जलाएं। इसके बाद एक दीपक लेकर घर के प्रवेश द्वार पर खड़े होकर आकाश की ओर दिखाएं। मान्यता है कि आश्विन मास में धरती पर आने वाले पितरों को दीपक द्वारा धरती से प्रस्थान का मार्ग दिखाना चाहिए। इससे पितृ प्रसन्न होकर अपने-अपने लोक लौट जाते हैं। इसके बाद ही घर से बाहर या देवालयों में दीपक जलाएं।

यह है यम दीप की कथा
राजा हंस के राजकुमार का विवाह के तीसरे दिन ही देहावसना होना तय था। जब यमराज के दूत वहां पहुंचे तो अत्यंत शोकाकुल वातावरण देखकर उन्हें दया आ गई। उसी समय दूतों ने यमराज से कहा प्रभु ऐसा उपाय बाताएं जिसे करने से अकालमृत्यु न हो। तब यमराज ने कहा कि धनत्रयोदशी के दिन जो मेरे निमित्त दीपदान करेगा उसे अकालमृत्यु नहीं झेलनी होगी।

 

 

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment