Reliance Jio ने वर्क फ्रॉम होम के लिए नया प्‍लान

नए 999 रुपए वाले प्लान में जियो का उद्देश्य अपने यूजर्स को अधिक डाटा उपलब्ध करवाना है ताकि वे घर पर रहकर अपना काम बिना किसी रुकावट के कर सकें।

नई दिल्‍ली। पिछले हफ्ते 2399 रुपए मूल्‍य वाला वार्षिक प्‍लान लॉन्‍च करने के बाद रिलायंस जियो ने आज अपने प्रीपेड यूजर्स के लिए एक नया तिमाही प्‍लान पेश किया है। इस प्‍लान में घर से काम करने वाले यूजर्स को अधिक डाटा की पेशकश की गई है। इस नए प्‍लान की कीमत 999 रुपए है। कंपनी इसके अलावा 599 रुपए और 555 रुपए मूल्‍य के अन्‍य तिमाही प्‍लान भी उपलब्‍ध करवा रही है।

नए 999 रुपए वाले प्‍लान में जियो का उद्देश्‍य अपने यूजर्स को अधिक डाटा उपलब्‍ध करवाना है ताकि वे घर पर रहकर अपना काम बिना किसी रुकावट के कर सकें। 999 रुपए वाले प्‍लान में यूजर्स को प्रतिदिन 3जीबी डाटा मिलेगा। इस प्‍लान की वैलेडिटी 84 दिनों की है। इसमें जियो से जियो और लैंडलाइन पर फ्री और अनलिमिटेड कॉलिंग की सुविधा है, जबकि जियो से अन्‍य मोबाइल नेटवर्क पर कॉल के लिए 3000 मिनट दिए जा रहे हैं। इसके अलावा यूजर्स को प्रतिदिन 100 एसएमएस और जियो एप्‍स के लिए फ्री सब्‍सक्रिप्‍शन मिलेगा।

जियोफोन के लिए पेश किया गया आरोग्स सेतु का नया संस्करण

कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वाले लोगों का पता लगाने वाली आरोग्य सेतु एप का एक संस्करण अब जियोफोन के एक मॉडल पर उपलब्ध हो गया है। इसे अब जियोफोन करीब पचास लाख उपयोगकर्ता डाउनलोड कर सकते हैं। अगले कुछ दिनों में इसे जियोफोन के अन्य मॉडल पर भी उपलब्ध करा दिया जाएगा। यह एप अभी तक आईओएस और एंड्रॉइड दोनों पर उपलब्ध थी। इसे लगभग 10.19 करोड़ यूजर्स ने डाउनलोड किया है। इसे डाउनलोड करना अब सरकारी और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए अनिवार्य है।

राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस खंड (एनईजीडी) के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अभिषेक सिंह ने कहा, कि सरकार का प्रयास यह सुनिश्चित करना है कि हर कोई सुरक्षित हो। सरकार चाहती है कि यह एप हर उस व्यक्ति के पास हो, जिसके फोन में एप इंस्टॉल हो सकता है। सिंह ने कहा कि अब जियोफोन के एक मॉडल के लगभग पचास लाख उपयोगकर्ताओं के लिए इस एप का एक संस्करण लॉन्‍च किया गया है। अगले कुछ दिनों में अन्य मॉडलों के लिए भी एप को पेश किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि जियोफोन काई-ओएस ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलते हैं, जो एंड्रॉइड और आईओएस से अलग है। इसलिए हमने काई-ओएस के लिए आरोग्य सेतु का संस्करण विकसित किया है। इसे आज जारी किया गया है। सिंह ने बताया कि एनईजीडी ने एप के काई-ओएस संस्करण को विकसित करने में मदद की है।

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

Idea TV News:- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें  पर लाइक और  पर फॉलो करें

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment