अडानी ग्रुप के शेयरों पर दांव लगाने वाले मालामाल: दो साल में 1 लाख रुपये का निवेश बन गया 66 लाख रुपये

कोविड-19 के प्रकोप के बाद शेयर बाजार में अच्छी संख्या में शेयरों ने अपने शेयरधारकों को मल्टीबैगर रिटर्न दिया है। इसमें अडानी ग्रुप (Adani Group) के सभी छह शेयर शामिल हैं।

कोविड-19 के प्रकोप के बाद शेयर बाजार में अच्छी संख्या में शेयरों ने अपने शेयरधारकों को मल्टीबैगर रिटर्न (adani stocks return) दिया है। इसमें अडानी ग्रुप (Adani Group) के सभी छह शेयर शामिल हैं- अडानी पावर, अडानी एंटरप्राइजेज, अडानी ट्रांसमिशन, अडानी टोटल गैस, अडानी पोर्ट्स और अडानी ग्रीन एनर्जी। इन छह अडानी शेयरों ने पिछले दो सालों में अपने  शेयरधारकों को मल्टीबैगर रिटर्न (Multibagger return) दिया है। अगर किसी शेयरधारक ने दो साल पहले इन छह मल्टीबैगर शेयरों में से प्रत्येक में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता, तो आज उनके पास कुल 66 लाख रुपये से अधिक की संपत्ति होती।

1] अडानी पावर: इस अडानी समूह के शेयर एनएसई पर 21 अगस्त 2020 को ₹39.15 के स्तर पर बंद हुए थे, जबकि अडानी पावर के शेयर की कीमत अब ₹410.65 है। इसका मतलब है कि अडानी पावर के शेयर की कीमत पिछले दो वर्षों में लगभग 10.50 गुना बढ़ गई है। इसलिए, अगर किसी निवेशक ने दो साल पहले अडानी पावर के शेयरों में ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो उसका ₹1 लाख आज ₹10.50 लाख हो जाता।

2] अडानी एंटरप्राइजेज: इस मल्टीबैगर स्टॉक के शेयर 21 अगस्त 2020 को एनएसई पर ₹233.35 के स्तर पर समाप्त हुए थे, जबकि अडानी एंटरप्राइजेज के शेयर की कीमत अब ₹3,127 है। यानी  पिछले दो वर्षों में अडानी समूह का यह हिस्सा 13.40 गुना बढ़ गया है। इसका मतलब है कि अगर किसी निवेशक ने दो साल पहले इस मल्टीबैगर स्टॉक में ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो उसका ₹1 लाख आज ₹13.40 लाख हो जाता।

3] अडानी ग्रीन एनर्जी: अडानी समूह के इस शेयर के शेयर 21 अगस्त 2020 को ₹376.55 के स्तर पर बंद हुए थे, जबकि अडानी ग्रीन के शेयर की कीमत इस समय ₹2,422 है। यानी यह शेयर 6.45 गुना बढ़ चुका है। इसलिए, अगर किसी निवेशक ने दो साल पहले अडानी के इस शेयर में ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो उसका ₹1 लाख आज ₹6.45 लाख हो जाता।

4] अडानी ट्रांसमिशन: इस अडानी समूह की कंपनी के शेयर 21 अगस्त 2020 को एनएसई पर 272.10 के स्तर पर समाप्त हुए थे, जबकि अडानी ट्रांसमिशन शेयर की कीमत अब  3,612 रुपये है। इसलिए, पिछले दो वर्षों में मल्टीबैगर स्टॉक 13.25 गुना बढ़ गया है, इस समय एक निवेशक ₹1 लाख से ₹13.25 लाख हो गया है।

5] अडानी टोटल गैस: इस अडानी समूह की कंपनी के शेयर बीएसई पर 21 अगस्त 2020 को ₹165.55 के स्तर पर बंद हुए थे, जबकि अडानी के कुल शेयर की कीमत इस समय ₹3,380.80 प्रति शेयर है। इसलिए, पिछले दो वर्षों में मल्टीबैगर स्टॉक ने 20.40 गुना चढ़ा  है। इसलिए, अगर किसी निवेशक ने दो साल पहले इस मल्टीबैगर स्टॉक में ₹1 लाख का निवेश किया था, तो उसका ₹1 लाख आज ₹20.40 लाख होगा।

6] अडानी पोर्ट्स: इस अडानी समूह की कंपनी के शेयर पिछले दो वर्षों में ₹354.35 से बढ़कर ₹870 हो गए हैं, जो लगभग 2.50 गुना बढ़ गया है। इसलिए, अगर किसी निवेशक ने दो साल पहले इस मल्टीबैगर अडानी स्टॉक में ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो यह आज ₹2.50 लाख हो जाता।

इसलिए, अगर किसी निवेशक ने अडानी समूह की इन कंपनियों के प्रत्येक छह शेयरों में ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो इन मल्टीबैगर अडानी शेयरों में उसकी शुद्ध संपत्ति लगभग ₹66.50 लाख ( ₹10.50 लाख + ₹13.40 लाख + ₹6.45 लाख + ₹) हो जाती। 13.25 लाख + ₹20.40 लाख + ₹2.50 लाख)।

संद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment