शरीर में हीमोग्लोबिन का लेवल बैलेंस करने लिए-शामिल करें

यह खून में पाया जाने वाला एक तरह का प्रोटीन है,जिसका काम शरीर की अन्य कोशिकाओं तक ऑक्सीजन का संचार करना होता है।हीमोग्लोबिन का लेवल कम होने के कारण शरीर में कई तरह की बीमारियां होती हैं, जिनमें से एक अनीमिया है| अगर समय से इस पर ध्यान दिया जाएँ तो हम खुद को कई बड़ी बीमारी होने से बचा सकते है| तो चलिए आज हम आपको उन आहार के बारें में बतायेंगे जो आपके शरीर में हीमोग्लोबिन का लेवल ठीक रखने में मदद करेगा|

हीमोग्लोबिन कम होने के लक्षण – Symptoms of Low Hemoglobin in Hindi – Hemoglobin Increase Food in Hindi

  • अचानक से दिल की धड़कन तेज होना
  • बार-बार शरीर में दर्द होने की परेशानी
  • कभी भी चक्कर या बेहोशी आना
  • हर वक़्त थकान महसूस होना
  • सांस लेने में तकलीफ होना
  • त्वचा में पीलापन

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के आहार – Hemoglobin Increase Food in Hindi

अंडा – 

egg

  • इसमें आयरन की भरपूर मात्रा पायी जाती है इसलिए यह एनीमिया से लड़ने में मदद करता है|
  • कई रिसर्च में यह बात साबित हुई है की नियमित रूप से एक या दो अंडे का सेवन करने से हीमोग्लोबिन की परेशानी ठीक होती है|

 

रेड मीट

red meat

  • अंडे के अलावा रेड मीट में भी आयरन की अच्छी मात्रा पायी जाती है|
    रोज़ाना 80 से 90 ग्राम रेड मीट के सेवन करने से हीमोग्लोबिन का लेवल नियंत्रित रहता है|
  • यही वजह है अपने आहार में रेड मीट जरूर शामिल करें|
    इसके अलावा यह टाइप 2 डायबिटीज,और दिल की बीमारियों में भी फायदेमंद माना जाता है|

सब्जियां

vegetables

  • किसी भी तरह की सब्जियां बड़ी बीमारियों को ठीक करने के लिए बहुत मददगार साबित होती है|
  • ऐसे ही हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए पालक, चुकंदर, सेम की फली, टमाटर, बंदगोभी, शकरकंद, शिमलामिर्च, कद्दू, ब्रोकली, और गोभी का सेवन करना चाहियें|
  • हीमोग्लोबिन बढ़ाने के अलावा यह सब्जियां खाने से रेड ब्लड सेल सक्रिय हो जाती हैं जिससे ऑक्सीजन का संचार तेजी से होता है।

फल

fruits

  • जिन लोगों को हीमोग्लोबिन की परेशानी होती है उन्हें अपने आहार में फलों को जरूर शामिल करना चाहिएं|
  • हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए पपीता, सेब, अमरूद, स्ट्रॉबेरी, अंगूर और खरबूज खाना चाहियें।
  • इसके अलावा, किशमिश, अखरोट, बादाम जैसे मेवे भी तेजी से रेड ब्लड सेल बढ़ाते हैं।

 

डार्क चॉकलेट

chocolates

  • डार्क चॉकलेट का सेवन करने से थकान, अपच और डिप्रेशन में भी राहत मिलती है|
  • ऐसे में हीमोग्लोबिन के लेवल को नियंत्रित रखने के लिए भी डार्क चॉक्लेट फायदेमंद माना जाता है|
  • कई मेडिकल रिसर्च में यह पाया गया है कि डार्क चॉक्लेट एनीमिया के लिए सबसे अच्छा और सरल उपाय है|

 

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment