अमरूद का पत्ता खाने से क्या स्वास्थ्य लाभ होता है?

अमरूद के फलों के साथ पत्तियों के भी कई सारे फायदे होते है l अमरूद के पत्तों का उपयोग कई बीमारियों में होता आ रहा है l

१. दस्त

अमरूद की पत्तियों और जड़ को एक कप उबलते पानी में मिलाएं, पानी को छीलें और खाली पेट इसका सेवन करें।

अमरूद की पत्तियाँ स्टैफिलोकोकस ऑरियस बैक्टीरिया की वृद्धि को रोकती है, जो दस्त का एक सामान्य कारण है। दस्त से पीड़ित लोग जो अमरूद की पत्ती की चाय पीते हैं, उन्हें पेट में दर्द कम होता है, दस्त कम होते है और वे जल्दी ठीक होते है।

२. पाचन में सहायता

पाचन एंजाइम उत्पादन को बढ़ावा देकर अमरूद की पत्तीया पाचन में मदत करती है। इनमें स्थित शक्तिशाली जीवाणुरोधी तत्व आंत की परत में बैक्टीरिया को मारते हैं और बैक्टीरिया द्वारा विषाक्त एंजाइमों के प्रसार को रोकते हैं।

अमरूद की पत्तियां विशेष रूप से भोजन की विषाक्तता के साथ-साथ उल्टी और मतली में फायदेमंद होती हैं।

पेट दर्द से राहत पाने के लिए अमरूद के पत्तों को १.५ लीटर पानी में उबालें और दिन में तीन बार पियें।

३. वजन घटाने में सहायता

अमरूद जटिल स्टार्च को शर्करा में परिवर्तित होने से रोककर वजन घटाने में सहायता करता है।

इससे शरीर में संचित कार्ब्स को शर्करा में परिवर्तित किया जाता है और जो वजन घटाने में सहायता करता है l

४. घटाए ब्लड ग्लूकोज़ लेवल

जापान में किये गए अध्ययन के अनुसार, अमरूद की पत्ती की चाय डायबिटीज के रोगियों में अल्फा-ग्लूकोसिडेज एंजाइम गतिविधि को कम कर ब्लड ग्लूकोज़ लेवल कम करने में मदत करती है।

इसके अलावा, यह शरीर द्वारा सुक्रोज और माल्टोज़ के अवशोषण को रोकता है, जिससे रक्त शर्करा का स्तर कम होता है।

१२ सप्ताह के लिए अमरूद के पत्ते की चाय पीने से इंसुलिन उत्पादन में वृद्धि के बिना रक्त शर्करा का स्तर कम हो जाता है।

५. कोलेस्ट्रॉल कम करे

अनुसंधान ने साबित किया है कि ३ महीने तक अमरूद की पत्तीवाली चाय पीने से एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स की मात्रा में कमी आती है और इसका अच्छे कोलेस्ट्रॉल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।

इसके अलावा, अमरूद की पत्तियां एक बढ़िया यकृत टॉनिक हैं।

६. सर्दी, खांसी में उपयोगी

अमरूद के पत्तों में विटामिन सी और आयरन की मात्रा अधिक होती है और अमरूद की पत्तियों का काढ़ा कफ और सर्दी से राहत दिलाने में बहुत मददगार होता है क्योंकि यह बलगम से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

७. मौखिक स्वास्थ्य

अमरुद के पत्तियों में वेदनाशामक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और जीवाणुरोधी गुण होने के कारण यह दांतों में दर्द, मसूड़ों के इन्फेक्शन या सूजन, मुँह के छाले जैसी आम समस्याओं में काफी असरदार है I

इन समस्याओं को ठीक करने के लिए पत्तियों को पीसकर पेस्ट बनाले और इसे मसूड़ों और दांतों पर लगाएं।

८. त्वचा के लिए है लाभदायक

अमरुद की पत्तिया कसैली होती है और इनमें मौजूद विटामिन सी त्वचा के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है l

इनका काढ़ा चेहरे पर लगाने से चेहरे की मांसपेशियों के टोनिंग और कसने में मदद मिलती है ।

पत्तियों को पीसकर लेप लगाने से मुहांसे कम होने में मदत मिलती है l

९. एलर्जी कम करे

अमरूद की पत्तियां हिस्टामाइन की रिलीज को रोकती हैं। इसके अलावा, अमरूद की पत्तियों में पाए जानेवाले यौगिक एलर्जी प्रतिक्रियाओं को रोकने में प्रभावी होते हैं।

इस वजह से खुजली से छुटकारा पाने के लिए अमरूद की पत्तियां एक प्रभावी इलाज हैं l

 

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment