रिकॉर्ड कोरोना: लगातार पांचवे दिन-24 घंटों में मिले 2.75 लाख नए केस

लगातार पांचवे दिन मामले दो लाख के आंकड़े को पार कर तीन लाख की ओर अग्रसर हैं. यही स्थिति रही तो एक लाख नए संक्रमण के मामलों का भी रिकॉर्ड बन जाएगा.

नई दिल्ली: हिंदू पौराणिक कथाओं में दर्ज रक्तबीज राक्षस की तुलना आज देश में भयावह ढंग से बढ़ रहे कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण के मामलों से की जा सकती है. लगातार पांचवे दिन मामले दो लाख के आंकड़े को पार कर तीन लाख की ओर अग्रसर हैं. यही स्थिति रही तो एक लाख नए संक्रमण के मामलों का भी रिकॉर्ड बन जाएगा. रविवार देर रात के आंकड़ों के अनुसार देश में इस वक्त 2,75, 306 कोविड-19 (COVID-19) संक्रमित हैं. यही नहीं, महामारी की दूसरी लहर में दिन प्रतिदिन तेजी से बढ़ती कोरोना संक्रमितों की संख्या का असर अब रिकॉर्ड मौतों के रूप में दिखने लगा है. वर्ल्डोमीटर के मुताबिक रविवार रात 12 बजे तक 24 घंटों में 1625 कोरोना मरीजों की मौत हो गई. एक दिन में कोरोना के नए संक्रमितों और इससे मौत (Corona Deaths) का यह सर्वोच्च आंकड़ा है. देश में लगातार तीन दिन से मौतों की संख्या रिकॉर्ड तोड़ रही है.

लगातार 39वें दिन संक्रमण के मामलों में वृद्धि
यह पहली बार है जब एक दिन में 2.74 लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए गए. खास बात यह कि पिछले कई दिनों से नए संक्रमितों का अंकड़ा रोज नए रिकॉर्ड स्थापित कर रहा है. फिलहाल देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 1,50,57,767 हो गए हैं. संक्रमण के मामलों में लगातार 39वें दिन वृद्धि हुई है. देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 19 लाख को पार कर गई है. फिलहाल कुल सक्रिय मरीजों की संख्या 19,23,877 है, जो कुल संक्रमितों की संख्या का 12.76 फीसदी है.

ठीक होने की दर घटकर 86 फीसदी हुई
कोरोना संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर गिरकर 86 प्रतिशत रह गई है. आंकड़ों के मुताबिक इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,29,48,848 हो गई है और मृत्यु दर गिरकर 1.20 प्रतिशत हो गई है. देश में कोरोना की संक्रमण दर सिर्फ दो हफ्तों से भी कम समय में दोगुनी हो गई है. यानी कुल टेस्ट किए गए सैंपलों में से 16.7 फीसदी सैंपल पॉजिटिव पाए जा रहे हैं. वहीं, साप्ताहिक औसत 14.3 प्रतिशत है. इससे पहले बीते साल 19 जुलाई को पॉजिटिविटी दर 15.7 प्रतिशत पहुंची थी और साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 12.5 फीसदी. 16.7 फीसदी संक्रमण दर होने का मतलब है कि हर छह सैंपल में से एक का पॉजिटिव पाया जाना.

यह भी पढ़ेंः  दिल्लीः कोरोना का कहर जारी, 24 घंटे में 25 हजार से ज्यादा मामले; 161 मौत

82 फीसदी मौतें केवल आठ राज्यों में
देश में 24 घंटों के दौरान सर्वाधिक 503 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई. इसके बाद दिल्ली में 161, छत्तीसगढ़ में 170, यूपी में 127, गुजरात 110, कर्नाटक में 81, पंजाब में 68 और मध्य प्रदेश में 66 लोगों की मौत हुई. इन आठ राज्यों में कुल 1286 मौतें हुईं जो कुल 1570 मौतों का 81.9 फीसदी है. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के मुताबिक 17 अप्रैल तक 26,65,38,416 नमूनों की जांच की जा चुकी है जिनमें से 15,66,394 नमूनों की जांच शनिवार को की गई.

पसंद आया तो—— कमेंट्स बॉक्स में अपने सुझाव व् कमेंट्स जुरूर करे  और शेयर करें

आईडिया टीवी न्यूज़ :- से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें यूट्यूब और   पर फॉलो लाइक करें

Related posts

Leave a Comment