दिल्ली हिंसाः धीरे-धीरे सामान्य, मौत का आंकड़ा 40 के पार

हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 हो गई है. हिंसा में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं.

जो क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, उनमें जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, खजूरी खास और भजनपुरा शामिल हैं.

ई दिल्लीः दिल्ली में फैली हिंसा के बाद अब हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं. लोग अपनी-अपनी जरूरतों के हिसाब से बाहर निकल रहे हैं. दंगा प्रभावित इलाकों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं. कई इलाकों में धारा 144 में ढील दी गई है. दिल्ली पुलिस ने बताया है कि राजधानी में जारी हिंसा को लेकर अब तक 123 एफआईआर दर्ज हुए हैं. 25 एफआईआर फायर आर्मस की दर्ज हैं.

 

दिल्ली पुलिस के मुताबिक 630 लोगों को पकड़ा (गिरफ्तार या हिरासत) गया है. पुलिस के मुताबिक यह आंकड़ा और भी बढ़ेगा. नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में स्थिति सामान्य है. जांच का काम शुरू हो चुका है.

 

हिंसा प्राभावित क्षेत्र

 

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएम रंधावा ने बताया कि फॉरेसिंक टीम ने क्राइम सीन का दौरा किया. इसके साथ ही सोशल मीडिया की भी मॉनिटरिंग हो रही है. स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम सबूत इकट्ठे कर रही है. हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 हो गई है. हिंसा में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं.

 

दिल्ली हिंसा में मुख्य रूप से जो क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, उनमें जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, खजूरी खास और भजनपुरा शामिल हैं.

 

शांति बहाली की कोशिश

 

हिंसा के बाद अब दिल्ली पुलिस ने जनता को समझाने का काम शुरु कर दिया है. शांति बहाली की कोशिश में पुलिस जनता से संवाद कर रही है. कोशिश है कि जनता के मन में फैले डर को खत्म किया जा सके.

 

हिंसा वाले इलाकों में भारी सुरक्षाबल तैनात है. हालांकि 26 फरवरी की शाम के बाद से अबतक हिंसा की कोई खबर नहीं आई है. जुमे की नमाज़ को देखते हुए दिल्ली के हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्व जिले के खजुरी खास और दयालपुर इलाकों में भारी सुरक्षाबल तैनात है.

 

हिंसा के बाद अब दिल्ली पुलिस ने जनता को समझाने का काम शुरु कर दिया है. शांति बहाली की कोशिश में पुलिस जनता से संवाद कर रही है. कोशिश है कि जनता के मन में फैले डर को खत्म किया जा सके.

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Related posts

Leave a Comment