गिलोय के रस के फायदे क्या हैं?

गिलोय, जिसे हिंदी में अमृता या गुडुची भी कहा जाता है, एक जड़ी बूटी है जो प्रतिरक्षा या इम्युनिटी को बढ़ावा देने में मदद करती है। गिलोयवैज्ञानिक रूप से टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया के रूप में जाना जाता है। इसमें दिल के आकार की पत्तियां होती हैं जो पान की पत्तियों के समान होती हैं। गिलोय को इसकी उच्च पोषण के कारण अत्यधिक प्रभावी माना जाता है लेकिन रूट और पत्तियों का भी उपयोग किया जा सकता है। गिलोयमधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद है क्योंकि यह स्वाद में कड़वा है और रक्त…

दालचीनी के फायदे क्या हैं?

दालचीनी के फायदे आज मैं आपके साथ दालचीनी के इस्तेमाल से होने वाले फायदे के बारे में बताने जा रही हूँ, चलिजानते हैं:- गले की खराश और खांसी दूर करे –गले की खराश और खांसी दूर करने के लिए दालचीनी का काढ़ा बनाकर पीने से आपको लाभ होगा। ऐसे करें उपयोग:- इसके लिए आप 2 कप पानी में एक टुकड़ा अदरक, 3-4 लौंग और आधा चम्मच दालचीनी पाउडर डालकर 5 मिनट के लिए उबालें। फिर इसे छानकर चाय की तरह पीएं। ऐसा करने से आप काफी राहत महसूस करेंगे। मुहांसों…

चेहरे पर काले धब्बों से कैसे छुटकारा पाएं?

सब कोई चाहता है की हमारा चेहरा साफ सुथरा रहे लेकिन जब पिंपल्स होते है तो वो दाग छोड़कर कर चले जाते जाते है जिसे हमारा चेहरा बहुत ही बेकार लगता है और उसपर दाग हो जाते है। इसे निजात पाने के लिए हम कुछ जानकारी दे रहे है जिसका आप लाभ उठा सक्ते है – एलोवेरा एलोवेरा चेहरे के लिए रामबाण इलाज है जिसका प्रयोग करके हम अपने चेहरे पर हुए दाग धब्बो से छुटकारा पा सकते है। अगर आपके घर में एलोवेरा का प्लांट है तो आप उसका…

प्राकृतिक तरीके से पेट के गैस और एसिडिटी से कैसे छुटकारा पाएं ?

बहुत से मान्यवर लोगो ने बहुत सी सलाह दे डाली की यह करो बो करो लेकिन क्या किसी ने यह पूछा आपसे की आप की दिनचर्या कैसी है आप क्या खाते हो कितना खाते हो कब सोते हो कब जागते हो किसी ने नहीं पूछा। तो पंकज भाई आयुर्वेद बातो से नहीं चलता बो चलता है बिमारी की जड़ में जाने से तो पहले तो आप यह समझ लीजिए की आप का पाचन क्रिया या सिस्टम खराब होना शुरू हो गया है और यही हाल रहा तो धीरे धीरे और…

बेलपत्र खाने के क्या फायदे हैं?

बेलएक गुणकारी औषधि है।बेलपत्र का इस्तेमाल कई रोगों को मिटाने के लिए जड़ी बूटी के तौर पर भी किया जाता है। तो चलिए जानते हैं इसके औषधिय गुणों के बारे में… सांस से जुड़ी बीमारियों में लाभ होता है। १ तेज बुखार होने पर बेलपत्र का काढ़ा पीने से राहत मिलती है। २पेट के भीतर आंतों, पैनक्रियाज़ को स्वस्थ रखने में यह उत्तम औषधि है। ३पाचन क्रिया में सहायक किडनी और लीवर को यह हमेशा स्वस्थ रखता है। ४मुंह के छाले ठीक करने के लिए पके हुए बेल के गूदे को पानी…

योगर्ट (Yogurt) और दही में क्या अंतर होता है?

दही (Dahi), भारतीय खाने में हमेशा एक महत्वपूर्ण हिस्सा राहा है। यह खाने में जितना स्वादिष्ट हैं उतनाही इसके पौस्टिक गुण भी हैं। सायेद यह बात जानकर आप हैरान हो जायेंगे की दूध के मुकाबले दही (Yogurt In Hindi) में पौस्टिक गुण ज्यादा होते हैं जबकि दही दूध से ही बनता हैं। दही में दूध के मुकाबले ज़्यादा कैल्शियम पाया जाता है। दही को ही इंग्रजी में कर्ड (Yogurt Meaning In Hindi) कहा जाता है। स्वाद और पौष्टिक गुण काफी मात्रा में होने के साथ साथ यह बनाने में भी…

दालचीनी खाने से क्या होता है और दालचीनी को कैसे खाना सही होता है?

दालचीनी में प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन ,मैग्निसियम ,फास्फोरस ,पोटेशियम ,सोडियम ,ज़िंक ,विटामिन सी , विटामिन ई, विटामिन ए, थियामिन, कार्बोहाईड्रेट ,नियासिन ,एंटीइंफ्लामेन्ट्री तत्व ,मैगनीज , पॉलीफिनॉल, एंटी ऑक्सीडेंट, फाइबर, कैरोटीन बीटा, लइकोपिन,फॉलेट , पैंटोथेनिक एसिड ,रिबोफ्लेविन आदि पोषक तत्व पाए जाते है। आइए दालचीनी से जुड़े स्वास्थ्य लाभों को संक्षिप्त में यहाँ देखें: 1. इम्युनिटी Dalchini हमारी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ने में बहुत उपयोगी है। दालचीनी एक एंटीऑक्सीडेंट है जो हमारे शरीर को मजबूत बनाये रखती है। इसे खाने से हमारा हृद्य मजबूत होता है। यह कोलोस्ट्रोल को भी नियंत्रित करता है।…

फल खाना अधिक फायदेमंद है या उनका जूस पीना?

फलो और सब्जियों का जूस है अत्यधिक फायदेमंद। If you not want to eat raw fruits and veggies than juice is good option. अगर आप कच्चे फल और सब्जियां नही खाना चाहते है तो आप उनका जूस बनाकर भी पी सकते है।इससे आपको उतनी ही ऊर्जा प्राप्त होती है जितना फल और सब्जियों को खाने से होती है। अच्छे स्वास्थ्य के लिए ताजे फल और सब्जियां और पत्तेदार साग खाने की सलाह दी जाती है। वे विटामिन, खनिज, फाइबर आदि के समृद्ध स्रोत हैं। भोजन के ये स्रोत हमारे वजन…

खसखस क्या है?

खसखस एक प्रकार का तिलहन है, जिसे अंग्रेजी में पॉपी सिड्स, बंगाली में पोस्तो, तेलुगु में गसागसालु (gasagasalu) आदि नाम से जाना जाता है। इन बीजों को पॉपी नाम के पौधे से प्राप्त किया जाता है। खसखस का वैज्ञानिक नाम पेपेवर सोम्निफेरम है। यह विशेष रूप से मध्य यूरोपीय देशों में उगाया जाता है। इसका इस्तेमाल कई प्रकार से क्षेत्रीय व्यंजनों के निर्माण में किया जाता है। इसके अलावा, इसके बीजों से तेल भी निकाला जाता है। खसखस के प्रकार नीले खसखस – इसे यूरोपीय खसखस भी कहा जाता है, क्योंकि ये…

इलायची के कुछ लाभ कौन से हैं?

इलायची का सेवन करने से मुंह के कैंसर, त्वचा के कैंसर से निजात पाई जा सकती है। इलायची में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी इफेक्ट्स और एंटी ऑक्सीडेंट गुण के कारण एलर्जी और सूजन की समस्या से निजात मिलती है। इलायची खाने से सर्दी-खांसी या गले की खराश की समस्या से निजात सकती है । इसके लिए रात को गुनगुने पानी के साथ इलायची को चबा-चबाकर खाएं। इलायची खाने से पेट में अल्सर, गैस, एसिडिटी की समस्या से छुटकारा मिलता है। क्योंकि इलायची के रोजाना सेवन करने से पाचन संबंधी समस्याओं से निजात…